राजनीति

प्रधानमंत्री के जन्मदिवस पर सामाजिक सरोकार के रूप में महर्षि मारकंडेश्वर ट्रस्ट द्वारा आयोजित किया गया मेगा हेल्थ कैंप


मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बतौर मुख्य अतिथि की शिरकत, 8000 से 10,000 लोगों का किया गया हेल्थ चेकअप
आज के युग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गरीबों के मसीहा, गरीब कल्याण के लिए कर रहे निरंतर कार्य- मनोहर लाल
हर नागरिक के स्वास्थ्य चैकअप हेतु हरियाणा सरकार ने चलाई निरोगी हरियाणा योजना, अब तक 40 लाख लोगों का टेस्ट किया जा चुका- मुख्यमंत्री



चंडीगढ़- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि आज के युग में यदि कोई गरीबों को मसीहा है तो वे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी हैं। उन्होंने गरीबों के कल्याण के लिए बहुत सी योजनाएं चलाई हैं, चाहे स्वास्थ्य, मकान, शिक्षा, रोजगार इत्यादि योजनाएं हों, इन सब प्रयासों के फलस्वरूप गरीबों व जरूरतमंदों को बहुत लाभ हुआ है। भूतकाल में केवल गरीबी हटाओ का नारा दिया जाता था, लेकिन इतने वर्षों में गरीबी को दूर करने के कोई इंतजाम नहीं किए गए, लेकिन पिछले 9 वर्षों में गरीबी दूर करने के लिए प्रधानमंत्री के नेतृत्व में जितने विकासात्मक कार्य हुए हैं, उतने शायद ही पहले कभी हुए हैं। हरियाणा सरकार भी परिवार पहचान पत्र के जरिये अंत्योदय की भावना से काम कर रही है।

मुख्यमंत्री आज अंबाला में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस के अवसर पर सामाजिक सरोकार के रूप में सेवा कार्य हेतु महर्षि मारकंडेश्वर ट्रस्ट द्वारा एम.एम. सुपरस्पेशलिटी अस्पताल में आयोजित मेगा हेल्थ कैंप में बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

श्री मनोहर लाल ने कहा कि इस मेगा हेल्थ कैंप में 8000 से 10,000 लोगों का हेल्थ चैकअप 700 से 800 डॉक्टर्स की टीम द्वारा किया गया। उन्होंने कहा कि अधिकतर लोगों को शरीर में पनप रही बीमारियों का पता नहीं लग पाता है, इसलिए इस प्रकार के हेल्थ चैकअप कैंप लोगों के लिए मददगार साबित होते हैं और उन्हें बीमारियों का प्रारंभिक स्तर पर ही पता लग जाता है, जिससे वे समय रहते इलाज प्राप्त कर पाते हैं।

मुख्यमंत्री की अपील, सही खान-पान और नियमित योग करने की आदत को अपनी दिनचर्या में शामिल करें नागरिक

मुख्यमंत्री ने नागरिकों का आह्वान करते हुए कहा कि नागरिकों को जीवन में स्वस्थ जीवनशैली को अपनाना चाहिए। इसलिए लोगों को सही खान-पान की आदत और नियमित योग करने की आदत को अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें हमारी दिनचर्या को ऐसा बनाना होगा कि हमारा जीवन स्वस्थ बना रहे। मौसम के अनुरूप, शरीर के अनुसार अगर शुद्ध आहार मनुष्य लेगा तो वह स्वस्थ रहेगा। हमें दिनचर्या के साथ साथ हमारी सोच को शुद्ध करना होगा। इतना ही नहीं, खेलों को जीवन का हिस्सा बनाना होगा, ताकि शरीर के साथ-साथ मानसिक रूप से भी हम स्वस्थ रहें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीबों को महंगे इलाज की सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आयुष्मान भारत योजना चलाई है। हरियाणा सरकार ने इस योजना का विस्तार करते हुए चिरायु हरियाणा योजना आरंभ की है। इसके तहत 1.80 लाख रुपये सालाना आय वाले परिवारों को 5 लाख रुपये तक का मुफ्त ईलाज की सुविधा मिलती है। अब राज्य सरकार ने एक और निर्णय लिया है जिससे 1.80 लाख रुपये से 3 लाख रुपये सालाना आय वाले परिवार भी मात्र 125 रुपये प्रति माह के प्रीमियम देकर 5 लाख का स्वास्थ्य बीमा कवर प्राप्त कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने के लिए अधिक से अधिक मेडिकल कॉलेज स्थापित किए जा रहे हैं, ताकि डॉक्टरों की संख्या बढ़ सके। जिला स्तर और ब्लॉक स्तर तक भी स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं, ताकि एक भी व्यक्ति अस्वस्थ न रहे। सरकार ग्राम स्तर तक वेलनेस सेंटर बनाने पर काम कर रही है।

निरोगी हरियाणा योजना का उद्देश्य प्रत्येक नागरिक का हेल्थ चैकअप करना, अब तक 40 लाख लोगों का टेस्ट किया जा चुका

श्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा सरकार ने निरोगी हरियाणा योजना चलाई है, जिसके तहत प्रदेश के नागरिकों का 2 साल में एक बार हेल्थ चैकअप सुनिश्चित किया जाएगा। अब तक 40 लाख लोगों का टेस्ट किया जा चुका है। आगामी डेढ़ साल में सबका टेस्ट किया जाए, इसके लिए उन्होंने निजी अस्पतालों और प्रयोगशालाओं को सरकार का सहयोग करने की अपील की।

इस अवसर पर हरियाणा सार्वजनिक उपक्रम ब्यूरो के चेयरमैन श्री सुभाष बराला, अंबाला शहर के विधायक श्री असीम गोयल, महर्षि मार्कंडेश्वर ट्रस्ट के अध्यक्ष और महर्षि मारकंडेश्वर यूनिवर्सिटी के कुलाधिपति श्री तरसेम गर्ग, अंबाला के उपायुक्त डॉ. शालीन सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Online Dainik Bhaskar

Related Articles

Back to top button