राजनीतिशख्सियत

मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने चाचा के बेटे का मकान भी ई-लाइब्रेरी के लिए दान किया

चंडीगढ़- हरियाणा के मुख्यमंत्री के मीडिया कोऑर्डिनेटर श्री राजकुमार कपूर ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने एक बार फिर से दानवीर कर्ण की राह पर चलते हुए अपनी पैतृक संपत्ति का दान किया है। यह पहली बार नहीं है, इससे पहले भी मुख्यमंत्री ऐसा त्याग समाज हित में कर चुके हैं। सोमवार को जब मुख्यमंत्री ने गांव में जब पहुंचकर यह घोषणा की तो हरेक ग्रामीण चकित रह गया।

राजकुमार कपूर ने बताया कि वर्ष 2010 में पैतृक संपत्ति के तौर पर मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल को 2.5 एकड़ कृषि जमीन और 200 गज का एक मकान ही मिला था। उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि अपनी इस जमीन को अपने लिए प्रयोग किया जाए। वे हमेशा ही समाज के लिए सोचते रहे हैं। इसी का परिणाम रहा कि पहले  मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने जनहित में वर्ष 2019 में पंचनद स्मारक समिति को अपनी एक एकड़ पैतृक जमीन समाज के नाम दान कर चुके हैं।

अब यह दूसरा मौका है जब उनकी ओर से युवाओं के लिए ई-लाइब्रेरी बनाने के इरादे से 200 गज का मकान समाज के नाम कर दिया है। इतना ही अपने चाचा के बेटे के भी छोटे मकान को इसी ई-लाइब्रेरी के लिए दान किया गया है।

Online Dainik Bhaskar

Related Articles

Back to top button