स्वास्थ्य

हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. मंदीप गर्ग ने बताये हार्ट अटैक के लक्षण व बचाव के तरीके

 

Ο युवाओं में बढ़ती  ह्रदय संबंधी बीमारियां चिंताजनक:मंदीप गर्ग
Ο विश्व में हर वर्ष 2, करोड़ लोग होते हैं ह्रदय रोग से मृत्यु का शिकार

राजेंद्र कुमार
सिरसा । ह्रदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर मनदीप गर्ग ने बताया कि युवाओं में ह्र्दय रोग सम्बंधित बीमारियां बढ़ती जा रही हैं जो कि बेहद चिंता का विषय है । उन्होंने बताया कि विश्व में हर वर्ष 2, करोड़ लोग ह्रदय रोग से मृत्यु का शिकार हो रहें हैं।भारत में होने वाली मौतों में हर चौथा व्यक्ति ह्रदय रोग संबंधित पाया गया है। डॉ मनदीप गर्ग आज यहाँ नामी दवा कम्पनी सिप्ला द्वारा  विश्व ह्रदय दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे।

उन्होंने  कहा कि युवाओं में भी ह्रदय रोगों का जोखिम बढ़ता जा रहा है । कुछ वर्ष पहले तक 60 वर्ष से अधिक उम्र वाले व्यक्तियों को हार्ट संबंधी दिक्कतें आती थी,किन्तु अब ये रोग और उस से जुड़े लक्षण युवावस्था में आने लगे हैं । वर्तमान में 30-35 वर्षीय युवा ह्रदय संबंधी रोगों से ग्रसित होने लगे हैं ।

डॉक्टर मनदीप गर्ग का कहना है कि हार्ट की नसों में ब्लॉकेज आने पर अटैक होता है ।हमारा खानपान भी काफ़ी हद तक ह्रदय रोग होने के लिए ज़िम्मेदार है । ह्रदय रोगों से बचने के लिए हमें अपने आहार को संतुलित करना चाहिए ।फलों हरी सब्ज़ियों का प्रयोग अधिक करना चाहिए ।शारीरिक व्यायाम रोज़ाना करना चाहिए। धूम्रपान व अन्य प्रकार के नशे भी ह्रदय रोग होने के मुख्य कारण है ।

डॉक्टर मनदीप गर्ग ने बताया किउच्च रक्तचाप के रोगियों को अपना चेकअप समय समय पर करवाते रहना चाहिए। नमक का प्रयोग कम से कम करना चाहिए ।हर व्यक्ति को अपने स्वास्थ्य की जाँच समय समय पर करवाते रहना चाहिए इससे अगर किसी बीमारी के लक्षण पता लगता है तो उस पर समय रहते क़ाबू पाया जा सकता है।हर व्यक्ति अपने प्रियजनों की ह्रदय की रक्षा के लिए रचनात्मक क़दम उठाए ताकि वह ख़ुश रह सकें।

Online Dainik Bhaskar

Related Articles

Back to top button