Crimeराजनीति

वेयर हाउसिंग में ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर रिश्वत केस में गिरफ्तार IAS जयबीर आर्य के मामले में हरियाणा एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) की FIR में बड़ा खुलासा हुआ

 

FIR में HSWC कर्मचारी के पति से कुरुक्षेत्र में डिस्ट्रिक्ट मैनेजर के रूप में पोस्टिंग के लिए IAS आर्य द्वारा रिश्वत लेने के डायरेक्ट इन्वालमेंट का संकेत नहीं मिलता है। FIR में केवल एक अन्य HSWC कर्मचारी संदीप घनघस, कॉनफेड अधिकारी राजेश बंसल, जिसको 2019 में CBI ने गिरफ्तार किया था। इनके अलावा एक निजी व्यक्ति मनीष शर्मा की संलिप्तता के बारे में जिक्र किया गया है।हालांकि ACB के एक अधिकारी ने दावा किया है कि आईएएस अधिकारी के खिलाफ चार्जशीट पेश करने के लिए सबूतों की चेन है।

एफआईआर में क्या कहा गया ?
FIR में शिकायत करने वाले राजेश कुमार ने बताया है कि HSWC के पानीपत जिला प्रबंधक संदीप घनघस ने उनसे तत्कालीन वेयर हाउसिंग के MD जयबीर आर्य को उनकी पत्नी के ट्रांसफर के लिए 3 लाख रुपए देने की पेशकश के साथ संपर्क किया था। एफआईआर में कहा गया है कि आर्य ने कुरुक्षेत्र में पोस्टिंग के आदेश 5 अक्टूबर को जारी कर दिए। इसके बाद उसकी पत्नी ने 6 अक्टूबर को अपने पद पर ज्वाइन कर लिया।

Online Dainik Bhaskar

Related Articles

Back to top button