राजनीति

ग्राम स्वराज्य किसान मोर्चा की किसान-कमेरी महापंचायत कल, चलाया निमंत्रण अभियान

पंचायती राज संस्थाओं की संपूर्ण के लिए महापंचायत में फूंकेंगे संघर्ष का बिगुल : होशियार सिंह
उत्तम टिकाऊ खेती से ग्राम स्वराज्य स्थापित कर बचा जा सकता है कंपनियों के शोषण से : होशियार सिंह

भिवानी: भारतीय किसान यूनियन के संस्थापक सदस्य व ग्राम स्वराज्य किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष होशियार सिंह सांगवान ने कहा कि बाजारी व्यवस्था के आधीन, जहरीली, महंगी व रासायनिक कृषि नीति को बदलकर शुद्ध, पवित्र, जहरमुक्त, सस्ती व उत्तम टिकाऊ खेती आधारित कृषि नीति को लागू करने से ही किसान आत्मनिर्भर बन सकता है तथा स्वदेशी से स्वरोजगार, स्वरोजगार से स्वावलंबन तथा स्वावलंबन से स्वराज्य की ओर बढ़ा जा सकता है, जिसके लिए जरूरी है कि लोग ग्राम स्वराज्य को बढ़ावा दे।

 

सांगवान रविवार को जिला के पातवान, बुसान, झुल्ली, मंढ़ाण सहित अन्य गांवों में किसानों संबोधित कर 7 नवंबर को महम चौबीसी के ऐतिहासिक चबूतरे पर ग्राम स्वराज्य किसान मोर्चा द्वारा आयोजित होने वाली ग्राम स्वराज्य किसान-कमेरी महापंचायत का निमंत्रण दे रहे थे। उन्होंने कहा कि उत्तम टिकाऊ खेती से ही ग्राम स्वराज्य लाया जा सकता है और फिर ग्राम स्वराज्य लाकर विश्व व्यासपार संगठन का विकल्प विश्व किसान व्यापार संगठन बनाकर बहुराष्ट्रीय कंपनियों के आधीन देश को शोषण मुक्त कर किसान सहित कमेरे वर्ग की सभी समस्याओं का समाधान किया जा सकता है।

 

उन्होंने ग्रामीणों से आह्वान किया कि वे 7 नवंबर को होने वाली किसान-कमेरी महापंचायत में पहुंचकर अपने सुझाव दे, ताकि पंचायती राज संस्थाओं को संपूर्ण आजादी दिलाने की आजादी की तीसरी जंग में वोट की सही चोट मारकर संपूर्ण आजदी का बिगुल बजाने की घोषणा कर सकें।

Online Dainik Bhaskar

Related Articles

Back to top button